क्या आप जानते हैं - अपने देश में पहली बार रेलगाड़ी रुड़की में २२ दिसंबर १८५१ में चली थी by RoorkeeWeb

हालाँकि यह एक अस्थायी सेवा के रूप में प्रयोग की गयी थी लेकिन अगर हम भारत देश में पहली बार रेलगाड़ी के प्रयोग की बात करें तो यह 22 दिसंबर १८५१ को रुड़की से पिरान कलियर के बीच चली थी|

उस समय में किसानो की सिंचाई की समस्या को दूर करने के लिए नहर का निर्माण का काम चालू किआ गया जिसके लिए मिटटी की जरूरत को पूरा करने के लिए यह रेलगाड़ी कलियर से मिटटी लेन में प्रयोग की गयी |
पिरान कलियर रुड़की से १० कम दूर था इस दुरी को रेलगाड़ी या कहे तो मालगाड़ी के माध्यम से दूर किया गया |
नहर निर्माण के बाद इस नहर का प्रयोग ६००० से ज्यादा गाँव में सिंचाई के लिए पानी की व्यवस्था करने में किया गया | 

जबकि भारत में पहली व्यापारिक रेलगाड़ी ने जिसमे की १४ डिब्बे थे १८५३ में मुंबई से ठाणे के बीच की 21 मील की दुरी ४५ मिनट में तय की